Computer kya hai | कंप्यूटर क्या है? | Computer full form

चलिए दोस्तों आज के इस blog में हम आपको बताते हैं। की Compter kya hai, Computer Full Form सरल भाषा में कहा जाए तो यह एक मशीन हैं ।

 कंप्यूटर एक ऐसा मशीन है। जो डाटा को प्रोसेस करने का कार्य करता है । और यह विभिन्न प्रकार की इंफॉर्मेशन  या डाटा को व्यवस्थित रूप से संचालित करता है। कंप्यूटर हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण अंग बन   चुका है, जैसा कि आपको पता ही होगा कि आधुनिक समय में कंप्यूटर का उपयोग बहुत तेजी से हो रहा है।

 कंप्यूटर से जुड़ी कुछ ऐसी जानकारियां है जिसे बहुत कम लोगों को पता है। जैसे कि Computer kya hai  Computer Full Form in Hindi ? यदि आप ही यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि कंप्यूटर क्या है?  कंप्यूटर फुल फॉर्म इन हिंदी क्या है ? तो आप इस ब्लॉग को अंत तक जरूर पढ़ें।

computer full form

Table of Content

  • Computer kya hai (What is computer)
  • कंप्यूटर का अर्थ  
  • Computer ka full form
  • Computer Full Form in Hindi
  • कंप्यूटर के मुख्य भाग (Main parts of computer)
  • Computer Hardware and  Software
  • Types of Computer (कंप्यूटर के प्रकार)
  • कंप्यूटर का उपयोग
  • Computer का आविष्कार किसने किया?
  • FAQ
  • Conclusion

Computer kya hai (What is computer)

Computer kya hai: कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है, जो निर्देशों की सूची के अनुसार डाटा मैं हेरफेर करता है, जिसे प्रोग्राम कहा जाता है। कंप्यूटर का प्रयोग 17वीं शताब्दी की शुरुआत में किया जा रहा था। इंपोर्टेड किसी भी यूजर द्वारा इनपुट किए गए डाटा को process करके उसके परिणाम को आउटपुट यानी कि मॉनिटर अथवा प्रिंटर के रूप में हमें दर्शाता है।

Accept data -Input (keyboard mouse webcam)
Process data -processing (CPU processing)
Produces out put -Output (Monitor Printer)

कंप्यूटर का अर्थ  

COMPUTER शब्द लैटिन भाषा के COMPUTARE तथा अंग्रेजी भाषा के COMPUTE शब्द से बना है जिस का हिंदी में अर्थ होता है गणना करना।

इसीलिए कंप्यूटर को अत्यधिक तीव्र गति से घटना करने वाला मशीन कहा जाता है। Computer एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो विभिन्न प्रकार की इंफॉर्मेशन को संगठित कर उनका व्याख्या तथा आलोचना करके हमें आवश्यक परिणाम देता है। कंप्यूटर एक मशीन है इसलिए गलती नहीं करता है। और नहीं मनुष्य की तरह थकता है। जबकि मनुष्य थकान की वजह से गलती कर सकता है। कंप्यूटर लगातार लंबे समय तक बिना थके वह बिना गलती किए कार्य कर सकता है।

Computer ka full form

Computer full form: चलिए जानते हैं कि कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या होता है वैसे भी कंप्यूटर का कोई फुल फॉर्म नहीं होता फिर भी कंप्यूटर का एक काल्पनिक फुल फॉर्म होता है।

  • C - COMMONLY
  • O - OPERATED
  • M - MACHINE 
  • P - PARTICULAR 
  • U - USED FOR 
  • T - TECHNICAL
  • E - EDUCATION 
  • R- RESEARCH

यदि आप कंप्यूटर का ट्रांसलेट हिंदी में करना चाहते हैं या कंप्यूटर का फुल फॉर्म हिंदी में जानना चाहते हैं तो यह इस प्रकार निम्न वत है।

Computer Full Form in Hindi

  • C- आम तौर पर
  • O-संचालित 
  • M- मशीन 
  • P- विशेष रुप से
  • U- प्रयुक्त
  • T- तकनीकी 
  • E- शैक्षणिक
  • R- अनुसंधान

जैसा कि आप लोग यह जान चुके होंगे कि कंप्यूटर का इस्तेमाल आमतौर पर तकनीकी और शैक्षिक अनुसंधान के लिए किया जाता है। कंप्यूटर को हिंदी में संगणक और अभी कलक यंत्र भी कहा जाता है।

कंप्यूटर के मुख्य भाग (Main parts of computer)

मुझे देखा था कंप्यूटर कई छोटे या बड़े कंपोनेंट से मिलकर बना होता है चलिए कंप्यूटर के कुछ मुख्य भाग के बारे में जान लेते हैं।

  1. MOTHERBOARD
  2. CPU/PROCESSER
  3. RAM 
  4. HARD DRIVE
  5. POWER SUPPLY UNIT

1. Motherboard

जैसा कि आपको सुनने में ही लग रहा होगा कि यह एक कंप्यूटर का मुख्य भाग है। कंप्यूटर के मुख्य सर्किट बोर्ड को मदरबोर्ड का जाता है । यह एक पतली प्लेट की तरह दिखने वाली कंपोनेंट होती है। जिसके ऊपर और अन्य कंपोनेंट लगे रहते हैं। जैसे कि सीपीयू मेमोरी हार्ड ड्राइव ऑप्टिकल ड्राइव कनेक्टर, इत्यादि। देखा जाए तो यह एक अलग अलग जरूरतमंदों की हिसाब से अलग-अलग फार्मेशन में मार्केट में उपलब्ध होता है।

Motherboard kya hai - यह प्रश्न अधिकतर लोगों के मन में उठता होगा, आपको बता दें कि मदरबोर्ड अधिकतर इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइस जैसे लैपटॉप कंप्यूटर आदि में लगा प्रिंटेड परिपथ बोर्ड होता है। इस सिस्टम बोर्ड भी कहते हैं।

2. CPU/ PROCESSER 

CPU kya hai, CPU ka full form क्या है? CPU कंप्यूटर का हुआ भाग है जहां पर सूचनाओं की गणना एवं उनका विश्लेषण किया जाता है।

CPU full from - Central Processing Units

जैसा कि आपको बता दें कि CPU , कंप्यूटर का एक दिमाग अर्थात मेन पार्ट होता है। सीपीयू मदरबोर्ड के अंतर्गत ही आता है एक प्रोसेसर की स्पीड जितनी ज्यादा अधिक होगी वह सीपीयू उतनी ही स्पीड से सूचनाओं का विश्लेषण कर पाएगा।

3. RAM

रेम का फुल फॉर्म Random access memory यानी ram होता है। जी कोई कंप्यूटर का मेन मेमोरी भी कहा जाता है। यह एक अस्थाई डाटा होता है जब डिवाइस को ऑफ किया जाता है तो जो इस में उपस्थित स्टोर डाटा  होता हैं  वो स्वयं रिमूव हो जाता है। Remove हुए डाटा को वापस नहीं किया जा सकता है । इसी RAM को volatile memory  भी कहा जाता है।

RAM के प्रकार

मुख्य रूप से रैम दो प्रकार का होता है।

  1. Static RAM
  2. Dynamic RAM

Static RAM  क्या है? 

सबसे पहले मैं आपको static का मतलब समझाना चाहता हूं, static का अर्थ होता हैं “ स्थिर” । इसका मतलब जब तक कंप्यूटर इलेक्ट्रिक के संपर्क में है तब तक इसमें डाटा स्टोर रहेगा। एक बार कंप्यूटर का पावर कट कर दिया जाए तो इसमें उपस्थित सभी डाटा Remove हो जाती है। और रैम पूरी तरह से empty हो जाती है।

Dynamic RAM क्या है?

Dynamic ram , static ram से बिलकुल विपरीत होता हैं। डायनामिक रैम अव्यवस्थित रहते हैं इस प्रकार के गेम को हमेशा बदलाव होते रहते हैं। डायनामक का मतलब ही होता है चक्कर लगाना। इसीलिए इसका नाम डायनामिक रैम रखा गया है।

4. Hard Disc Drive

यह  मेटल की बनी डिस्क होती है जो disc के ऊपर समांतर में लगा दी जाती है जिससे यह हार्ड ड्राइव का स्वरूप ले लेती है। हार्ड ड्राइव ऊपर व नीचे के अलावा हर जगह डाटा को लिखा जाता है। अवन डिस्क अपनी जगह लगातार घूमती रहती है हार्ड डिस्क कंप्यूटर में स्थाई स्वरूप ले लेती है। और यह कंप्यूटर के लिए काफी वफादार होता है हार्ड ड्राइव में आप कोई भी डॉक्यूमेंट सॉफ्टवेयर एवं अन्य प्रकार के फाइल्स को आप सुरक्षित संगठित कर सकते हैं। और सेव किया डाटा लंबे समय तक स्टोर किया जा सकता है जिसका उपयोग आप कभी भी कर सकते हैं।

5. Power Supply Unit

आपको बता दें कि किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक उपकरण को चलाने के लिए पावर की आवश्यकता अर्थात बिजली की आवश्यकता होती है किसी प्रकार की इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में बिजली की आपूर्ति पावर सप्लाई यूनिट के माध्यम से ही होता है। यह जरूरतमंदों के हिसाब से इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में उसके अलग-अलग कंपोनेंट में पावर की सप्लाई करता है।

Computer Hardware and  Software

कंप्यूटर हार्डवेयर का उपयोग हम साधारण कंप्यूटर में इस्तेमाल करते हैं। वही बात करें कंप्यूटर सॉफ्टवेयर की तो यह codes के कलेक्शन को हार्ड ड्राइव में इंस्टॉल करता है। आमतौर पर जो हम कंप्यूटर मॉनिटर में जो भी पढ़ते हैं तथा माउस जिसका यूज़ नेविगेशन के लिए किया जाता है यह सब कंप्यूटर हार्डवेयर के अंतर्गत ही आता है। जब हम वेबसाइट विजिट करते हैं और सिस्टम को ऑपरेट करते हैं तो ऐसी चीजों को हम सॉफ्टवेयर कहते हैं। कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर का सामान भूमिका होता है इन दोनों का होना कंप्यूटर के लिए अति आवश्यक होता है।

Types of Computer (कंप्यूटर के प्रकार)

कंप्यूटर एक प्रकार की इलेक्ट्रॉनिक मशीन है जिसका उपयोग व्यक्ति सूचनाओं की गणना के लिए उपयोग में लाता है। कंप्यूटर को अधिक से अधिक दुनिया का दिमाग माना जाता है। क्योंकि कंप्यूटर का उपयोग हर प्रकार के क्षेत्र में किया जा रहा है। बात करें तो कार्य प्रणाली के आधार पर कंप्यूटर को तीन भागों में बांटा गया है।

  • Analog Computer
  • Digital Computer 
  • Hybrid Computer
Analog Computer को चलाने के लिए कम पावर की आवश्यकता होती है परंतु डाटा को ट्रांसफर करने के लिए समय लगता है। 

जबकि ठीक है इसी के विपरीत Digital Computer को अधिक पावर सप्लाई की आवश्यकता होती है। जबकि डाटा को संसाधित करने के लिए बहुत ही कम समय लगता है। आपको इस बात से परिचित करना चाहते हैं कि इन तीनों के अलावा और विभिन्न प्रकार के भी कंप्यूटर होते हैं।

Different types of Computer

1. Desktop  

आमतौर पर डेक्सटॉप कंप्यूटर का इस्तेमाल स्कूल ऑफिस और व्यक्ति अपनी पर्सनल काम के लिए उपयोग में लाता है। इस कंप्यूटर का डिजाइन ऐसा होता है जिसे आप Desk पर देख सकते हैं और इस कंप्यूटर के बहुत सारे पार्ट होते हैं जैसे मॉनिटर कीबोर्ड माउस इत्यादि।

2. Laptop

लैपटॉप एक  पोर्टेबल डिवाइस होता है। लैपटॉप को कहीं भी और कभी भी ले जाया जा सकता है ।

3. Tablet 

टेबलेट जिसे हम हैंडहेल्ड कंप्यूटर भी कहते हैं आसानी से हाथ में लेकर चलाया जा सकता है इसमें कीबोर्ड और माउस नहीं होता है यह एक टच सेंसेटिव स्क्रीन होता है इसका उपयोग टाइपिंग और नेविगेशन के लिए इस्तेमाल में किया जाता है।

Servers

Servers एक ऐसा कंप्यूटर है जिसका उपयोग हम इंफॉर्मेशन के आदान-प्रदान में करते हैं जैसे ही हम इंटरनेट पर कुछ खोजते हैं तो वह Servers में ही स्टोर होता है।

कंप्यूटर का उपयोग

कंप्यूटर का उपयोग कहां होता है आमतौर पर देखा जाए तो कंप्यूटर का उपयोग हम अपने जीवन में हर जगह करते हैं और शायद करती रहेंगे क्योंकि कंप्यूटर मानो का एक अंग बन गया है। मैंने कुछ उपयोग आपके जानकारी के नीचे निम्न वत दे रहा हूं।

  • शिक्षा के क्षेत्र में
  • हेल्थ एंड मेडिसिन किस क्षेत्र में
  • विज्ञान के क्षेत्र में
  • बिजनेस के क्षेत्र में
  • क्रिएशन एंड एंटरटेनमेंट के क्षेत्र में
  • गवर्नमेंट के क्षेत्र में
  • डिफेंस के क्षेत्र में
  • हैकिंग के क्षेत्र मे 

ऐसे बहुत से क्षेत्र हैं जो हम अपनी जरूरत के अनुसार कंप्यूटर का उपयोग करते हैं। 

Computer का आविष्कार किसने किया?

आधुनिक कंप्यूटर का जनक किसे कहा जाता है ऐसा सवाल आपके मन में उठा होगा तो उससे लोगों ने कंप्यूटिंग के क्षेत्र में अपना योगदान दिए इन सबके बावजूद Charles Babage ने कंप्यूटर के अविष्कार में योगदान दिया। आपको बता दूं कि चार्ल्स बैबेज कोई आदमी कंप्यूटर का जनक माना जाता है।

FAQ

Q:1  कंप्यूटर का दिमाग कौन है? 
Ans: CPU (Central processing units)

Q:2 Computer का आविष्कार किसने किया? 
Ans: Charles Babbage

Q:3 कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या होता है ? 
Ans: Commonly operated machine particularly used in technical and educational research होता हैं।

Q:4 निर्देशों का समूह क्या कहलाता है? 
Ans: प्रोग्राम।

Conclusion

आज की इस पोस्ट में मैंने आपको कंप्यूटर की पूरी जानकारी हिंदी में दी है इसमें आपको कंप्यूटर से जुड़ी कई बातें बताएं है । जैसे कि Computer kya hai, Computer full form kya hota hai , types off computer आदि आशा करता हूं कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी। अगर आपका कंप्यूटर क्या है इससे संबंधित कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर पूछें। आपको हमारा यह ब्लॉग कैसा लगा कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

! धन्यवाद !

इसे भी पढ़े :-

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने