ED Full Form in Hindi || ED की पूरी जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तों, आजकल अक्सर लोग सुबह-सुबह अखबार पढ़ते हैं। या अपने घर ही टीवी देखते हैं, तो ऐसे में आप ED के बारे में अवश्य ही सुनते या पढ़ते होंगे क्या आपको मालूम है कि ED kya hota hai? Ed Ka full form क्या होता है? ED का इतिहास क्या है? शायद नहीं।

तो आप ED kya hota hai?  ED ka full form, ED का इतिहास तथा ED से जुड़ी विभिन्न जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस पोस्ट में हमारे साथ अन्त तक बने रहिए।

ed ka full form

Ed kya hota hai

ED भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के अधीन एक विशिष्ट वित्तीय जांच एजेंसी है। इसके तहत ही विदेशों में संपत्ति मामला, Money Laundering, आय से अधिक संपत्ति यानी कि काला धन की जांच की जाती है। ED की स्थापना 1 मई सन 1956 को नई दिल्ली में हुई थी। पहले तो इसे प्रवर्तन निकाय के नाम से जाना गया परंतु बाद में 1957 में इसका नाम "प्रवर्तन निदेशालय" कर दिया गया।

Ed Ka full form

Ed Ka full form "Directorate of enforcement" OR "Directorate General of Economic Inforcement" होता है। जिसे हिंदी में "प्रवर्तन निदेशालय" या "प्रवर्तन महानिदेशालय" भी कहा जाता है। ED का मुख्यालय दिल्ली में स्थित है। ED की स्थापना 1 मई सन 1956 को हुई थी।

Ed Ka full form in Hindi

दोस्तों जैसा कि आप जान ही चुके हैं कि Ed ka full form kya hota hai, अब हम आपको बताएंगे कि Ed full form in Hindi मे क्या होता है। Ed ka full form Hindi  में "प्रवर्तन निदेशालय" या "आर्थिक परिवर्तन महानिदेशालय" होता है।

ED का इतिहास

Ed मतलब प्रवर्तन निदेशालय की स्थापना 1 मई सन 1956 को हुआ था। इसका प्रमुख मुख्यालय दिल्ली में स्थित है। जब विदेशी मुद्रा विनियमन अधिनियम (FERA), जिसकी स्थापना 1947 में हुई के अंतर्गत विनिमय नियंत्रण विधियों के उल्लंघन को रोकने के लिए आर्थिक कार्य विभाग के नियंत्रण में ED का गठन किया गया। 1957 में इसका नाम "प्रवर्तन निदेशालय" रख दिया गया। दिल्ली के अतिरिक्त ED की पांच अन्य मुख्यालय हैं। जो इस प्रकार हैं।  चेन्नई, कोलकाता, मुंबई ,चंडीगढ़, हैदराबाद। इसके अलावा प्रवर्तन निदेशालय के 16 कार्यालय हैं। भारत में ED अर्थात प्रवर्तन निदेशालय एक आर्थिक खुफिया एजेंसी है। जिसके तहत देश में आर्थिक कानूनों को लागू किया जाता है। यह आर्थिक कानून मुख्य रूप से दो होते हैं।

  1. PMLA (Prevention of Money Laundering Act)
  2. FEMA (Foreign Exchange Management Act)

PMLA  (Prevention of Money Laundering Act)

इसकी स्थापना सन 2002 में हुई थी। इस Act के अनुसार यदि कोई व्यक्ति Money Laundering करता है, या इस Act का उल्लंघन करता है, तो कानूनी रूप से उसे गिरफ्तार करने का अधिकार इसी Act को जाता है।

FEMA (Foreign Exchange Management Act)

यदि कोई व्यक्ति गैरकानूनी रूप से विदेशी मुद्रा को अर्जित करता है। तो उसे इस एक्ट के तहत सजा दी जाती है।

ED का मुख्य कार्य

ED भारत सरकार के वित्त मंत्रालय की राजस्व विभाग के अधीन एक विशेष वित्तीय जांच एजेंसी है। इसे आर्थिक गतिविधियों का खुफिया एजेंसी भी कहा जा सकता है। इसके मुख्य कार्य इस प्रकार हैं।

  1. FEMA अर्थात विदेशी विनिमय प्रबंधन अधिनियम के अंतर्गत यदि कोई व्यक्ति विदेशी मुद्राओं का गैरकानूनी तरीके से उपयोग कर रहा है। और इस नियम का उल्लंघन कर रहा है, तो आरोपी को दंड देने का अधिकार ED को है।
  2. यदि कोई व्यक्ति काला धन जप्त करता है। एवं आर्थिक नियमों का उल्लंघन करता है। तो उसे ED के तहत दंड मिलता है।
  3. आर्थिक गतिविधियों का पता लगाना, विदेशी मुद्राओं के घोटाले को रोकना, आय से अधिक संपत्ति को अवैध रूप से रखना इत्यादि अपराधों का पता लगाना ED का काम होता है।

Ed Officer kaise bane

यदि कोई व्यक्ति या छात्र ED Officer बनना चाहते है। तो सबसे पहले उन्हें किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से Graduation करना होगा इसके बाद Civil  का Exam देना होता है। अर्थात IAS,IPS,IRS रैंक के अधिकारी ही ED Officer बन सकते हैं।

ED Officer बनने के लिए योग्यताएं

यदि कोई उम्मीदवार ED Officer बनना चाहता है। तो उनके पास निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए।

  • उम्मीदवार 12वीं पास किया हो।
  • किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से Graduation की Degree प्राप्त किया हो।
  • Graduation करने के बाद राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित Civil Service Exam के लिए आवेदन करना होगा।

Ed ki salary

तो दोस्तों मैंने आपको बता ही दिया कि Ed kya hota hai?, Ed Ka full form, Ed Ka full form in Hindi, ED officer kaise bane इत्यादि अब आप यह सोच ही रहे होंगे कि आखिर एक ED Ki Salary कितनी होती होगी तो मैं आपको बता दूं कि एक ED Ki Salary, fix नहीं होती क्योंकि ED में भी कई पद होते हैं। Ed ki salary कितनी होती है। इस बात का Perfect ज्ञान मुझे भी नहीं है। इंटरनेट पर मिली जानकारी के अनुसार मैं आपको बता दूं कि एक Ed ki salary लगभग 50000 से 70000 तक हो सकती है।

ED के प्रमुख कार्यालय 

ED अर्थात प्रवर्तन निदेशालय जिसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। इसके अलावा 5 क्षेत्रीय कार्यालय भी हैं।

  1. मुंबई
  2. चेन्नई
  3. चंडीगढ़
  4. कोलकाता
  5. हैदराबाद 
कुछ उप कार्यालय भी हैं।
  • अहमदाबाद
  • बैंगलोर बैंगलोर
  • कोच्चि 
  • पणजी 
  • गुवाहाटी
  • जयपुर
  • जालंधर
  • लखनऊ
  • भुवनेश्वर 
  • इंदौर 
  • नागपुर
  • इलाहाबाद
  • रायपुर
  • देहरादून
  • सूरत

ED के अन्य Full form

  • English Department
  • Effective Dose
  • Engineering Department
  • Effective Diameter
  • Efficiency Decoration
  • Eating Disorder
  • Emergency Department
  • Effective Date
  • Enterprise Development
  • Electrodialysis 

ED से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण FAQ

Q1• क्या काम करती है?
Ans~ प्रवर्तन निदेशालय (Ed) के कार्य मुख्य रूप से FEMA के प्रावधानों की संदिग्ध उल्लंघन की जांच करता है। विदेश में किसी भी तरह की कोई भी संपत्ति खरीदने पर ED उसकी जांच करता है।

Q2• ED की स्थापना कब हुई?
Ans~ ED की स्थापना 1 मई सन 1956 को हुई।

Q 3• ED का पूरा नाम क्या है?
Ans~ Ed Ka full form "directorate of Inforcement" होता है।

Q 4• प्रवर्तन निदेशालय के प्रमुख कौन हैं?
Ans~ प्रवर्तन निदेशालय के प्रमुख "संजय कुमार मिश्रा" हैं।

Q 5• ED के मुख्य रूप से कितने Act हैं?
Ans~ ED के मुख्य रूप से दो Act हैं।
  • PMLA (Prevention of Money Laundering Act)
  • FEMA (Foreign Exchange Management Act)

Conclusion

तो दोस्तों यह थी ED से जुड़ी कुछ जानकारियां जो मैंने आपको इस पोस्ट में बहुत ही आसान शब्दों में समझाने का प्रयास किया है कि Ed kya hota hai, Ed Ka full form, ED officer kaise Bane, ED Ka का कार्य, Ed ki salary इत्यादि। आशा करता हूं कि आप ED के बारे में संपूर्ण जानकारी हासिल कर चुके होंगे। यदि फिर भी आपके मन में ED को लेकर कोई प्रश्न हो तो आप कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। अगर आपको यह पोस्ट पढ़कर अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के पास अवश्य भेजें

!धन्यावाद!


इसे भी पढ़े:-


1 टिप्पणी:

  1. There isn't any project too small or too big for our capabilities. We are trusted by Cal-Trans as a companion on a few of their most critical road and bridge elements. We not only collaborate on new Thong Panties building, but repairs and seismic-retrofit projects. Tap to close the Sheet steel model function; the Finish sheet steel model function is listed in the Feature listing. Check Flip direction up should you want to reverse the orientation of the sheet steel model.

    जवाब देंहटाएं

Blogger द्वारा संचालित.